Chandan Priyadarshi

An Ardent reader of almost every subject, An Avid Traveler, An Agnostic (Adwaitin) by faith, Hindu by Religion, Engineer by profession from the ancient city of Nalanda, Bihar, India.

अथर्ववेद संहिता – 2:33 – यक्ष्मविबर्हण सूक्त

अथर्ववेद संहिता॥अथ द्वितीय काण्डम्॥[३३- यक्ष्मविबर्हण सूक्त] [ ऋषि -ब्रह्मा। देवता – यक्षविबर्हण (पृथक्करण) चन्द्रमा, आयुष्य।…

अथर्ववेद संहिता – 2:32 – कृमिनाशन सूक्त

अथर्ववेद संहिता॥अथ द्वितीय काण्डम्॥[३२- कृमिनाशन सूक्त] [ ऋषि – काण्व। देवता– आदित्यगण। छन्द -अनुष्टुप् ,…

अथर्ववेद संहिता – 2:30 – कामिनीमनोऽभिमुखीकरण सूक्त

अथर्ववेद संहिता॥अथ द्वितीय काण्डम्॥[३०- कामिनीमनोऽभिमुखीकरण सूक्त] [ ऋषि – प्रजापति। देवता – १ मन. २…

अथर्ववेद संहिता – 2:29 – दीर्घायुष्य सूक्त

अथर्ववेद संहिता॥अथ द्वितीय काण्डम्॥[२९- दीर्घायुष्य सूक्त] [ ऋषि – अथर्वा। देवता – १ वैश्वदेवी (अग्नि,…

अथर्ववेद संहिता – 2:28 – दीर्घायु प्राप्ति सूक्त

अथर्ववेद संहिता॥अथ द्वितीय काण्डम्॥[२८- दीर्घायु प्राप्ति सूक्त] [ ऋषि – शम्भु। देवता – १ जरिमा,…

अथर्ववेद संहिता – 2:27 – शत्रुपराजय सूक्त

अथर्ववेद संहिता॥अथ द्वितीय काण्डम्॥[२७- शत्रुपराजय सूक्त] [ ऋषि – कपिञ्जल। देवता – १-५ ओषधि,६ रुद्र,…

अथर्ववेद संहिता – 2:25 – पृश्निपर्णी सूक्त

अथर्ववेद संहिता॥अथ द्वितीय काण्डम्॥[२५- पृश्निपर्णी सूक्त] [ ऋषि– चातन। देवता – वनस्पति पृश्निपर्णी। छन्द –…

error: Content is protected !!