मधुविद्या सूक्त

अथर्ववेद-संहिता – 1:34 – मधुविद्या सूक्त

अथर्ववेद-संहिता॥अथ प्रथमं काण्डम्॥ १४५. इयं वीरुन्मधुजाता मधुना त्वा खनामसि।मधोरधि प्रजातासि सानो मधुमतस्कृधि॥१॥ सामने स्थित, चढ़ने वाली मधुक नामक लता मधुरता...

error: Content is protected !!